याद आता है प्यार का वादा
दिल के चैनो-क़रार का वादा
हर्फ़ बा हर्फ़ दिल पे लिक्खा है
जो है उस जांनिसार का वादा
उनको छूकर चली वो आयेगी
हमसे है इस बयार का वादा
( बयार= हवा/पवन )
उनकी आंखों में लग रहा मुझको
फ़िर से छाया ख़ुमार का वादा
हार अपनी के बाद बोले हम
हमसे उनका था हार का वादा
जानती है ये मां की ममता भी
शर्त बिन है दुलार का वादा
ये भी ‘आनन्द’ है यकीं मुझको
पूरा होना है यार का वादा
स्वरचित
DrAnand Kishore
Delhi,

Say something
Rating: 4.0/5. From 1 vote. Show votes.
Please wait...