हम हिन्दुस्तान के वासी है
हिन्दी हमारी भाषा है
सुबह की चाय हिन्दी मे
रात्रि की बाते हिन्दी मे
दिनभर गपशप हिन्दीमे
जानसमझ है हिन्दी मे
मॉ का दुलार हिन्दी मे
पिता की सीख हिन्दी मे. धर्म का ग्यान हिन्दी मे. वेद.विद्यान हिन्दी मे .
सुर और ताल हिन्दी
रागनुराग हिन्दी मे

आज हमारे हिन्दीभाषी हिन्दुस्तान का हिन्दु नववर्ष प्रांरभ होने जा रहा है इसी के साथ आप सभी को नवरात्रि आरंभ होने की लख लख बधाई और शुभकामनाएँ आपको यह नववर्ष चैत्र नवरात्र ढेरो खुशियॉ प्रदान करे….
आपका चौ.अखलेश जैन गौरझामर

 

Say something
Rating: 5.0/5. From 1 vote. Show votes.
Please wait...