बचपन के दिन – 2

बचपन के दिन – 2

By |2018-04-06T23:26:53+00:00April 6th, 2018|Categories: बचपन|Tags: , |2 Comments

..याद बहुत आयें वो बचपन वाले दिन
कितने अच्छे थे छुहिया औ पाटी वाले दिन
याद बहुत आयें कलम,दवायत वाले दिन
आ गए कॉपी और किताबों वाले दिन
कब के छूट गए वो गलती करने वाले दिन
स्कूल में रहते टीचर के लेक्चर
घर में माँ और बाबू जी का डर
एक तरफ शिक्षा की टेंसन
एक तरफ यारों के संग मस्ती वाले दिन
कन्चे, खो- खो और कबड्डी वाले दिन
क्लास रूम में उड़ते रॉकेट और जहाजों वाले दिन
याद बहुत आयें माँ, टीचर और पिताजी जी के हांथो पिटने वाले दिन
माँ की लोरी वो परियों की कहानी वाले दिन
याद बहुत आयें वो संडे की छुट्टी वाले दिन
याद बहुत आयें वो बचपन वाले दिन……….

 

   – सुबोध उर्फ सुभाष

 

Comments

comments

No votes yet.
Please wait...
Spread the love
  • 5
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    5
    Shares

About the Author:

2 Comments

  1. Shyamacharan Shukla April 16, 2018 at 12:20 pm

    sweet

    No votes yet.
    Please wait...
  2. SUBODH PATEL April 17, 2018 at 11:15 am

    सुक्रिया जी

    No votes yet.
    Please wait...

Leave A Comment