नारी भाग 01

Home » नारी भाग 01

नारी भाग 01

By |2018-08-03T07:55:34+00:00August 3rd, 2018|Categories: कविता|Tags: , , |0 Comments

” नारी ” (भाग-१)

उपेक्षित उपहार हूँ मै
उपशम एक उपचार हूँ मै |

निर्जन की संगीत हूँ मैं
खुशियों की अवतार हूँ मैं ||

पी दृगमदिरा मस्त हुआ
मतवाले की उद्गार हूँ मैं |

मैं सृष्टि की हूँ मै रचनाकार
मतिहीन वस्तुत:नारि हूँ मैं ||

#कॉपीराईटमतिहीन
*मनोज उपाध्याय मतिहीन*

Say something
No votes yet.
Please wait...

About the Author:

मनोज उपाध्याय मतिहीन, अयोध्या नगर महासमुंद,छ.ग. पिन 493445

Leave A Comment