वीरों को नमन

है मेरा उन वीरों को नमन,
जो आपने खूं से सींचते हैं चमन
ये तिरंगा हम सब की जान है
ये तिरंगा ही हमारी पहचान है,
जाति धर्म से भी है ऊँची शान तिरंगे की
क्या हिन्दू क्या मुस्लिम क्या सिक्ख ईसाई
सरहद की रक्षा करने वाला हर वीर है भारतवासी
सबकी है जान तिरंगा, सबका है मान 
जाँ से भी ज्यादा है प्यारी, सबको शान तिरंगे की
हैं वो लोग भी कितने अभिमानी जो
देश की सेवा में हो जाते हैं अमर बलिदानी
देश की सेवा में कितने कष्ट उठाते हैं
तिरंगे की मान की खातिर,
बिना रुके बिना झुके
जो मौत को भी हसके गले लगाते हैं
ऐसे वीरों के नमन में मैंअपना शीश झुकाता हूँ।

सुबोध पटेल
15/8/2018

Say something
No votes yet.
Please wait...