नई कलम

Home » नई कलम

नई कलम

By |2018-11-04T20:22:42+00:00November 4th, 2018|Categories: कविता|Tags: , , |0 Comments

चुपचुप लेकर जाती
नई कलम को पोती
लिखती लिखती
डेर सारे लिखती
कागज पर नहीं
नया बना हुआ
दीवार पर ।

Say something
No votes yet.
Please wait...

Leave A Comment