जीवन मे संकल्प

संकल्प जीवन में है कितने,
पार करने के बहाने है कितने,
कहीं आशा और कहीं निराशा,
फिर भी संकल्प जीवन में है कितने।
रोज दस हज़ार सैनिको को मारने का,
भीष्म ने भी किया था बड़ा संकल्प,
दकियासुनी ज़िन्दगी में भी,
संकल्प बड़े है कितने,
पार करने के बहाने है कितने।
संकल्पों ने की है नींद बड़ी हराम,
जाने किसके मानस में कितना बड़ा संकल्प,
सफारी खरीदने के भी है बड़े संकल्प,
पुण्य कितने करे ये ना हो संकल्प,
पाप कितने करे ये भी संकल्प,
संकल्प जीवन में है कितने,
पार करने के बहाने है कितने।
 

No votes yet.
Please wait...

Leave a Reply

Close Menu