मेरा विचार

इन दिनों बड़े ही धूमधाम से नवरात्रि का त्योहार मनाया जा रहा है चारों तरफ माँ अम्बे की पूजा-अर्चना की जा रही है हर तरफ भक्तिमय माहौल बना हुआ है, लेकिन एक बात समझ में नहीं आती है की जिस देश मे माँ अम्बे की इतनी पूजा की जाती है उसी देश मे नारियों के प्रति इतनी वितृष्णा और शोषण क्यों?वेदों में तो महिलाओं को देवी की दर्जा प्राप्त है तो इन देवियों के प्रति इतनी असम्मान व्यवहार क्यो किया जाता है, शायद इसका उत्तर इतना आसान नहीं है फिर मेरे विचार से यही कारण है की यह समाज शुरू से ही पुरूष प्रधान समाज है और यहाँ बच्चों को शुरू से ही महिलाओं को सम्मान देना नहीं सिखाया जाता है अतः हम चाहें कितना भी माँ अम्बे की पूजा कर ले,लेकिन अगर महिलाओं और लड़कियों को सम्मान नहीं देंगे तो सब कुछ व्यर्थ है

:कुमार किशन कीर्ति,युवा लेखक

No votes yet.
Please wait...

Kumar kishan kirti

युवा शायर,लेखक

Leave a Reply

Close Menu