आंकलन

खुली सड़क
अकेला मैं राही
पाने को मंजिल
तरसे मेरी निगाहें
देर बेशक लगे
लंबे रास्ते मैं लूंगा
कोई भी शॉर्टकट लेकर
अपने को मंजिल पे जल्दी पहुंचाने की
गल्ती मैं कदापि नहीं करूंगा
यह सफलता असफलता का आंकलन तो है
महज एक मकड़जाल
भंवरो का खेल
एक मनोस्थिति
ऐसी भयंकर मनोदशा में मैं तो
कभी नहीं फसूंगा।

मीनल

Rating: 5.0/5. From 1 vote. Show votes.
Please wait...

Leave a Reply

Close Menu