भारत के सरल किसान

हम भारत के सरल किसान है॥
हम सीधे साधे इंसान है॥

हम पढ़े लिखे भी गत के है॥
हम अत्याचारी को पटके है॥

हम मेहनत के प्रेम पुजारी है॥
हम खेती के रम्हे खिलाड़ी है॥

हम आदर्श पुरूष के नाती है॥
हम सच्चे मानव के जाती है॥

हम भेदभाव नही करते है॥
हम बेईमानी से डरते है॥

हम मेहनत की रोटी खाते है॥
हम भूखे गरीब को खिलाते है॥

हम दुश्मन के लिए ६ फिरा है॥
हम पक्के सम्भंधो के गहरा है॥

हम देश प्रेमी के बालक है॥
हम अपने देश के चालाक है

शम्भू नाथ कैलाशी

No votes yet.
Please wait...

शम्भनाथ

पिता का नाम स्वर्गीय श्री बाबूलाल गाँव कलापुर रानीगंज कैथौला प्रतापगढ़ उत्तर-प्रदेश जन्म ०७/०८/१९७४ शिक्षा परानास्तक पुस्तकालय विज्ञानं पेसा नौकरी

Leave a Reply

Close Menu