मत किया करो

मत किया करो

मत किया करो याद किसी को-
कोई सुनकर चला नहीं आयेगा।।

चल सको तो चलना संभलकर-
कोई तुमको उठाने नहीं आयेगा।।

दर दर भटकने से क्या फायदा-
कोई घर अपने बिठाने नहीं आयेगा।।

हाथों को मसलकर रहा जाओगे-
कोई धीर बधाने नहीं आयेगा।।

मौत आयेगी ना जिस दिन,
‘ राहुल ‘ तो बस आंशु बहायेगा।❖❖❖

No votes yet.
Please wait...

Leave a Reply

Close Menu