नये वर्ष का एजेंडा: विचार व संकल्प

नये वर्ष का एजेंडा: विचार व संकल्प
  1. आपको लगता है, यह बुरी आदत है उसे 2020 में, छोड देने का मन बना ले। किसी एक आदत को, जो लगता है कि अच्छी है, उसे अगले वर्ष में अपनाने का बीडा उठाएं।
  2. अपनी ओर देखें! जो इच्छा पूरी हो गई, वहीं से, अगले लक्ष्य पर ध्यान केंद्रित कर, आगे बढें।
  3. अवसरों को- अपने पक्ष में करना ही महत्व का है।
  4. आज में जिए- यानि जीवन को बेहतर बनाने-वर्तमान का करें सदुपयोग। ‘
  5. अपना रास्ता, खुद बनाए। ‘
  6. आप जो भी, जैसे भी हैं ‘- इस पडाव पर पहुंचने के लिए, आपने लंबा रास्ता तय किया है।
  7. दूसरों को खुश करने के लिए, ‘ आप अपने को न बदले’ क्योंकि ऐसा करने से, न आप स्वयं और न दूसरों को खुश कर पाएंगे।
  8. मेहनत- एक ऐसी सुनहरी चाभी है, जो बंद भविष्य के दरवाजे भी खोल देती है।
  9. ‘नहीं ‘ कहने की आदत डालें- यानि जहां आपको ‘नहीं ‘ कहना है वहां मन रखने के लिए ‘हा’ न कहें।
  10. ‘अह’ (मैं) हमारा शत्रु है- ‘मैं’ और ‘मेरा’ – हमें दूसरों से दूर ले जाता है। इसलिए अहं’ को छोडे और रिश्ते बनाएं।
  11. प्रसन्नता को अपना स्वभाव बनाएं।
  12. जीवन सुंदर है – खुलकर जिए, हर पल का आनंद ले। क्योंकि कहा है -‘जिंदगी जिंदा दिली का नाम है।’
  13. ‘प्रगति’ का फामुर्ला: प्रगति = निर्णय + तुरंत कार्रवाई
    यानि जब निर्णय ले ले तो उसे कार्य रूप में परिणित करें,
    हार्दिक- जीत की समीक्षा और फिर निर्णय और प्रगति
  14. एक समय में एक ही काम करें।
  15. समय धन हैं। इसे व्यर्थ न गँवाए।
  16. न की शांति महत्वपूर्ण है! – ‘हमारे पास ‘क्या है?’ और ‘क्या नहीं है?’ इसे लेकर, अपने को दुखी न करें। हर परिस्थिति में तटस्थ भाव रखें।
    ❖❖❖
No votes yet.
Please wait...

Leave a Reply

Close Menu