कब आओगे रामा

कब आओगे रामा

सास तो हमपे धौस जमाती ॥
ससुर करे हंगामा ॥
ननद हमारी बोली बोले ॥
देवर करता ड्रामा ॥
तीन साल तो बीत गया है ॥
कब आओगे रामा ॥

कोयल गाय के हमें चिढ़ाती ॥
मोर करत शोर ॥
जब चलती है मधुर बयरिया ॥
अकडत पोर ही पोर ॥
कब तक तड़प रहूगी सहती ॥
धोऊ गी पयजामा ॥
तीन साल तो बीत गया है ॥
कब आओगे रामा ॥

शम्भू नाथ कैलाशी

No votes yet.
Please wait...

शम्भनाथ

पिता का नाम स्वर्गीय श्री बाबूलाल गाँव कलापुर रानीगंज कैथौला प्रतापगढ़ उत्तर-प्रदेश जन्म ०७/०८/१९७४ शिक्षा परानास्तक पुस्तकालय विज्ञानं पेसा नौकरी

Leave a Reply

Close Menu