प्रेम

प्रेम

By | 2018-01-20T17:09:03+00:00 March 18th, 2016|Categories: कविता|0 Comments

जहाँ प्यार होता आपस में ,
सुख – दुख मिलकर सहते है ।
उस घर में सुख – प्रेम सफलता ,
साथ – साथ मिल रहते है ।
बिना प्रेम के नही सफलता,
पास किसी के आती है ।
सुख पीछे – पीछे चलता है ,
जहाँ सफलता जाती है ।
प्रेम जहाँ भी जाएगा,
सुख और सफलता आएंगे ।
सारा जीवन सुखमय होगा ,
दुख तुम से कतराएंगे ।

सौजन्य – दीपशिखा वार्षिक पत्रिका

Comments

comments

No votes yet.
Please wait...
Spread the love
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share

About the Author:

Leave A Comment