परीक्षा और मुस्कान

परीक्षा और मुस्कान

By | 2017-04-01T22:45:13+00:00 April 1st, 2017|Categories: संस्मरण|Tags: |0 Comments

बात अभी पिछले वर्ष की ही है, मैं कक्षा दसवीं में पढ़ता था । पढ़ने में अच्छा था और प्रतिस्पर्धा के युग में तो पढ़ाई अधिक ही करनी पढ़ती है । बोर्ड परीक्षा सिर पर थी और पढ़ाई जोर सोर से चल रही थी , पता ही नहीं चला की कब विदाई समारोह का दिन आ गया । हम सभी विद्यार्थी विदाई समारोह में सम्मिलित हुए, वो समय ऐसा था कि हम सभी और हमारे शिक्षक भावुक थे । हमें सभी की शुभकामनाएँ मिलीं और हमने सभी का आभार व्यक्त किया , इसी बीच एक शिक्षक आए उन्होंने कहा “आज आप लोगों के चेहरों की मुस्कान कहाँ खो गई है , मैं मानता हूँ कि परीक्षा निकट है लेकिन उसे बोझ न माने आप अपनी पूरी मेहनत परीक्षा की तैयारी में लगाएँ और परीक्षा परिणाम से बिल्कुल भी मत घबराएँ और मुस्कराते रहें ” सर के ये शब्द सुनकर हम सभी विद्यार्थियों का आत्मविश्वास बढ़ा और हम सभी मुस्कुराते, मुस्कुराते परीक्षा में उत्तीर्ण हुए ।
– नवीन कुमार जैन

Comments

comments

No votes yet.
Please wait...
Spread the love
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share

About the Author:

Leave A Comment