बोलने की आदत हो गयी है

बोलने की आदत हो गयी है

By | 2017-04-16T19:09:02+00:00 April 16th, 2017|Categories: विचार|0 Comments
एक मित्र हैं हमारे कानपूर के,
जब भी मिलते बहुत सी बातों की जिक्र करते …
ऐसा हो रहा है देश में … ऐसा नहीं होना चाहिए
उसने ऐसा कहा … मैं ऐसा हरगिज़ बर्दाश्त नहीं कर सकता …
और भी बहुत सी शिकायतें थी उनको इस दुनिया से …
.
महीनों गुजर गए लिस्ट लम्बी होती गई उनकी शिकायतों की …
.
एक दिन मैं भी पुछ बैठा … करना क्या चाहते हो?
उनके एक जवाब ने मुझे निरुत्तर कर दिया मुझे …
बोले…
.
करना कुछ नहीं चाहता …बोलने की आदत हो गयी है …अब जाती नहीं…

Comments

comments

Rating: 2.0/5. From 1 vote. Show votes.
Please wait...
Spread the love
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share

About the Author:

Leave A Comment