राधा प्यारी

Home » राधा प्यारी

राधा प्यारी

By | 2017-08-09T21:36:30+00:00 August 9th, 2017|Categories: कविता|0 Comments

चल हट जाने दे सांवरिया
झलकत जाए मोरी गगरिया
धुन लय में बाजे री पायलिया
हल्की मनभावनी बायर चले री
प्रेम दिवानी बनी री सांवरिया
पतली कमर बलखायरी सांवरिया
मोसे न सम्भलें री गगरिया
हंसी ठिठोली करें री सहेलियाँ
सखि में तो भूली री डगरिया
मुरली सौतन लागे री सांवरिया

Comments

comments

Rating: 4.5/5. From 1 vote. Show votes.
Please wait...
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

About the Author:

Leave A Comment