भारत मां के बेटे है

भारत मां के बेटे है

By | 2018-01-29T15:51:35+00:00 January 29th, 2018|Categories: कविता|Tags: , , |4 Comments

घर द्वार सब छोड़कर, सरहद पर करते है लड़ाई,                अपनो की चिंता नही, सीमा पर है गोली खाई ।।।

वंदे मातरम् की नारा, सब मिलकर गाते है,                           आ जाए दुश्मन अगर, फिर भी न घबराते है ।।।

सीना तान खड़ा है देखो, वीर सिपाही कश्मीरी घाटी पर,       नेताओ को देखो यारो, सो रहे है खाटी पर ।।।

अरे,कौन कहता है इनको, अपनो से है प्यार नही,                 भारत मां के बेटे है, परिवार इन्हे स्वीकार नही ।।

राहुल”राज”रोहतासी

जवाहर नवोदय विद्यालय
सरायकेला झारखंड

Comments

comments

Rating: 4.5/5. From 2 votes. Show votes.
Please wait...
Spread the love
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share

About the Author:

नमस्ते मेरे प्यारे भाईयो एवम् बहनो मेरा नाम राहुल कुमार है। मै जवाहर नवोदय विद्यालय सरायकेला झारखंड का छात्र था। मै अभी 11 कक्षा मे पढ़ाई करता हूं।

4 Comments

  1. admin January 29, 2018 at 3:58 pm

    अच्छा लिखते हैं … लिखते रहें। बधाई!

    Rating: 5.0/5. From 1 vote. Show votes.
    Please wait...
  2. RahulKumar January 29, 2018 at 6:10 pm

    धन्यवाद सर

    Rating: 5.0/5. From 1 vote. Show votes.
    Please wait...
  3. subal chandra January 29, 2018 at 10:53 pm

    बहुत सुन्दर!!

    Rating: 5.0/5. From 1 vote. Show votes.
    Please wait...
  4. RahulKumar January 30, 2018 at 1:48 pm

    Thanks bhaiya

    Rating: 5.0/5. From 1 vote. Show votes.
    Please wait...

Leave A Comment