कलाकार

कलाकार

By | 2018-04-09T22:29:14+00:00 April 9th, 2018|Categories: मुक्तक|Tags: , |0 Comments

मैं एक कलाकार हूँ,

सुंदरता से कुरूपता तक आंकता; ।

बहुत छिद्र हैं इस जग में’

बस कल्पना में ही टांकता हूँ ।

Comments

comments

No votes yet.
Please wait...
Spread the love
  • 5
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 1
  •  
  •  
  •  
    6
    Shares

About the Author:

कलकत्ता विश्वविद्यालय से स्नातकोत्तर की शिक्षा प्राप्त किया । कविता पाठ में विशेष रूचि

Leave A Comment