एहद

Home » एहद

एहद

By | 2018-04-10T21:04:09+00:00 April 10th, 2018|Categories: कहानी|Tags: , |0 Comments

बहुत मुश्किल है लडाई अपने आप से,
पहलू मे से कुछ छिनता जाता है योगी;
और इक हम है के हारते जाते हैं यारब,
बेसबब बेइरादा तुम से एहद जो किया|

Comments

comments

No votes yet.
Please wait...
Spread the love
  • 2
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    2
    Shares

About the Author:

Leave A Comment