मुझे बचाएगा कौन ?

मुझे बचाएगा कौन ?

By | 2018-04-15T18:48:18+00:00 April 15th, 2018|Categories: कविता|Tags: , |0 Comments

मुझे बचाएगा कौन ? 

वो मुझसे रूठे हुए हैं,
मैं जिन्दगी से रूठा हुआ हूँ।
मैं उसे मना लूंगा,
मुझे मनाएगा कौन ?

उन्हें यकीन है,
हम जोड़ लेंगे उन्हें।
पर मैं भी तो टुटा हुआ हूँ ,
मुझे बनाएगा कौन ?

वो सुन्दर है,
गिर भी जाए तो क्या ?
फिक्र तो मुझे मेरी है,
मुझे उठाएगा कौन ?

डोल रही है कश्ती उसकी,
उम्मीद से देखती है मुझे।
पर मैं भी तो भंवर मैं हूँ ,
मुझे बचाएगा कौन ?

Comments

comments

Rating: 4.0/5. From 1 vote. Show votes.
Please wait...
Spread the love
  • 5
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 1
  •  
  •  
  •  
    6
    Shares

About the Author:

लिखने का शौक है

Leave A Comment