याद

याद

दिल में उमंग है तो जीवन में रंग होंगें

जीवन में रंग हो तो दुश्मन भी संग होंगें

यादों को साथ रखना, यादोँ में याद रखना

जीवन में हो ना हो हम, बातों में याद रखना

बारिश का वो महीना, यादों में तेरी होगा

तरसा था मैं अकेला, तूने पूरा मास भोगा

आँखें मेरी थी भादो, तेरे नैन षाढ होंगें

दिल में उमंग है तो जीवन में रंग होंगें ।।

मेरा प्रेम पत्र है या तूने फाड़ दिया उसको

कागज़ का वो नहीं था, दिल दे दिया था तुझको

उस पत्र में लिखा था, मुझे प्यार है तुझी से

शादी है तुझको करनी, सब छोड़ के मुझी से

यादों की राख खोजो, उस ढेर में मिलेंगे

दिल में उमंग है तो जीवन में रंग होंगें ।।

तेरी याद में दहकना, तेरे प्यार से महकना

आँखों के जाम पीकर, मदहोश हो बहकना

नागिन सी चाल तेरी, हालत खराब मेरी

तुने सादगी दिखाई, तो मौत आयी मेरी

मेरी मौत पे तो आके, दुश्मन भी रोये होंगें

दिल में उमंग है तो जीवन में रंग होंगें ।।

© संजय कुमार शर्मा ‘प्रेम’

 

No votes yet.
Please wait...

Leave a Reply

Close Menu