सिकंदर चला गया।

शहर सारा क्यूं घर के अंदर चला गया, टकराकर किनारों से समंदर चला गया। तरक्की,चकाचौंध, ऊंची–ऊंची इमारतें, मचाकर तबाही वो …