पैगाम

मैं खुद ही नहीं समझ पा रहा जो मैं लिख रहा हूं तुम जब मेरा पैगाम पढ़ोगी तो कैसे समझोगी तुम्हारा जवाब हां होगा गर उसे मैं भी पढ़ न पाऊं समझ न…

Continue Reading

*Covid 19 करोना (याद आया गुजरा जमाना*

Covid 19 करोना (याद आया गुजरा जमाना) Covid 19याद आया दादी का जमाना याद आया है वो दादा-दादी,नाना-नानी चाचा-चाची बुआ-फूफा का वो गुजरा जमाना * *अस्वच्छ हाथ ना हमें लगाना हाथ ,पांव मूंह…

Continue Reading

संकल्प

कोरोना के वायरस को गर हराना है जीवन की जंग पे जो विजय पाना है तो सबको एक संकल्प उठाना है किसी से हाथ नहीं मिलाना है एक निश्चित दूरी बनाये रखनी है…

Continue Reading

कोरोना का दोहरा खतरा : एक चेहरे पे दो दो मास्क

अभी अभी टीवी खोला सोचा कोरोना से सम्बंधित न्यूज अपडेट देखा जाये एनडीटीवी इंडिया न्यूज चैनल के एक रिपोर्टर गाजियाबाद के वैशाली में फल सब्जी की रेहड़ियों पे सब्जी फल खरीदते ग्राहकों से…

Continue Reading

हम सैनिक हैं बड़े हठीले

हम सैनिक हैं बड़े हठीले, हम कुछ भी कर जायेगें। अरि सुनकर पद ध्वनियों को, वो दिल ही दिल में दहशत खायेगें। हम ऐसे वीर मतवाले हैं, जैसे लड़ सकते हम लड़ जायेंगे।…

Continue Reading

कोरोना का ग्रहण

कोरोना का अर्थ है प्रभामंडल विशेषकर ग्रहण के समय सूर्य या चन्द्रमा के चारों ओर दिखाई पड़ने वाला प्रकाश का घेरा कोरोना वायरस का प्रभाव इसके अर्थ में निहित है ग्रहण तो लग…

Continue Reading

सूरज का प्रभामंडल

सूरज के प्रभामंडल के बन रहे न जाने कितने अनगिनत प्रतिबिम्ब उसकी जल में पड़ती परछाइयां बना रही प्रकाश की मछलियों के तैरते पदचिन्ह सूरज जो डूब जाये जल की तरंगों में जो…

Continue Reading

सीप में मोती

सीप में मोती आसमान में चांद कितना अपना कितने करीब फिर भी हो जाता वक्त के प्रवाह में खुद से दूर आंखों से ओझल छीन लेती दुनिया हो जाता पराया कभी एक झलक…

Continue Reading

जिंदगी

जिंदगी में कभी ऐसा समय आए राह-ए-मंजिल तुम्हें नजर ना आए,लाख कोशिशें करने के बाद भी सफलता तुम्हें मिल ना पाए,तो हार मत मानना अगर जिंदगी की जीत में यकीन है तो कोशिश…

Continue Reading

गायिका

करू क्या बड़प्पन ॥ सुहाना हो लिखते ॥ तुम्हारी गजल को ॥ खुद गा रही हूँ ॥ शब्दो की परिभाषा ॥ भाने लगी है ॥ सुरीले स्वरो में ॥ गुन-गुना रही हूँ ॥…

Continue Reading
Close Menu