आपसे आज दूर रहना….

लम्हा-लम्हा मैंने बिताया उनके एक-एक क्षण कैसे कहें जिंदा कैसे उनके बेगैर मैं इस जहां में जीते जा रहे हैं

Continue Reading आपसे आज दूर रहना….

तेरा साथ चाहिए और कुछ नहीं चाहिए

तेरा साथ चाहिए और कुछ नहीं चाहिए तुझ जैसी नहीं सिर्फ तू ही चाहिए इस जन्म में ना सही बेशक अगले जन्म में तू सिर्फ मेरे साथ चाहिए .... (गौरव सिंह विराजकर )

Continue Reading तेरा साथ चाहिए और कुछ नहीं चाहिए