मातृभाषा में रचनाएँ पढ़ें 2018-02-06T21:40:04+00:00
0+
लेखक
0+
पाठक
0+
रचनाएँ

नव प्रकाशित रचनाएँ

Load More Posts

वर्तमान थीम “बचपन”

ज़िन्दगी को फुसला के एक यू-टर्न लेते हैं… चलिए वक़्त के पेड़ से गिर कुछ लम्हे चुनते हैं… चलिए अपने बचपन में चलते हैं!

Load More Posts
थीम पर आधारित रचना जमा करें

सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली रचनाएँ

गाँधी से मुलाकात

By |व्यंग्य|

मन में लेके स्वच्छ छवि, निकला घर से जब निकला रवि । गया मन खुशियों से खिल, जब पहुंचा भारत के दिल । नई दिल्ली की देख स्वच्छता,  मन मेरा प्रसन्न हुआ पर बाकी जगहों पर मुझको, कूड़े का अम्बार मिला । आश्चर्य बड़ा था, जहाँ कूड़ा पड़ा था, वहाँ गाँधी जी भी रोते दिखे [...]

Load More Posts

अन्य प्रकाशित रचनाएँ

Load More Posts
रचना साझा करें
  • 3.1K
  •  
  •  
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    3.1K
    Shares