राजेश"ललित" शर्मा 2018-01-14T15:26:11+00:00

राजेश"ललित" शर्मा

संक्षिप्त परिचय:
एक अध्यापक पर पिछले ४० वर्षों से लिखना,पढ़ना,राष्ट्र एवं समाज सेवा अध्यात्म चिंतन, साहित्य सेवा आदि कार्यों में संलग्न।

Posts

  • मन खट्टा

    “मन खट्टा” —————– मन खट्टा हो गया चल यार कैसी बात करता है मन कभी... Read More »
  • अकेलेपन का साथी

    आज अकेलेपन को ही बना लेते हैं साथी फिर चलते हैं तन्हाईयों में फिर देखते... Read More »
  • इंतज़ार मत करना

    “इंतज़ार मत करना” ————————- इंतज़ार मत करना अब मेरा थक गये हैं पाँव मुश्किल है... Read More »