मौत से ठन गई (अटल स्मृति)
shree atal bihari 4 hindilekhak.com

मौत से ठन गई (अटल स्मृति)

अटल स्मृति: श्रद्धांजलि  श्रंखला ठन गई! मौत से ठन गई!  जूझने का मेरा इरादा न था, मोड़ पर मिलेंगे इसका वादा न था,  रास्ता रोक कर वह खड़ी हो गई, यों लगा ज़िन्दगी…

Continue Reading
Close Menu