वत्स ! क्या अब तुम वह नहीं, जो पहले थे

मधुगीति १८०२१२ ब वत्स ! क्या अब तुम वह नहीं, जो पहले थे? निर्गुण की पहेली, अहसास की अठखेली; गुणों …