सागर के दर्शन जैसा

तुम कहते वो सुन लेता,तुम सुनते वो कह लेता। बस जाता प्रभु दिल मे तेरे,गर तू कोई वजह देता। पर तूने कुछ कहा नही,तेरा मन भागे इतर कहीं। मिलने को हरक्षण वो तत्पर,पर तुमने ही सुना…

Continue Reading
Close Menu