शादी , शहर या गाँव में ?

आज पान सिंह जी को अपना गांव छोड़े हुए एक लंबा अरसा हो गया था , वह सहपरिवार शहर में ही आकर बस गए थे उन्होंने यही शहर में अपना मकान बना रखा…

Continue Reading शादी , शहर या गाँव में ?

ग़ज़ल

जब मोहब्बत से भरे ख़त देखना भूल कर भी मत अदावत देखना साँस लेते लेते दम घुटने लगे इस क़दर भी क्या अज़ीयत देखना मसअला दुनिया का छेड़ो बाद में पहले अपने घर…

Continue Reading ग़ज़ल