दुख में ही भगवान को…

कुछ समय बाद पता चला की सुखों की पोटलियाओं का पता ही नही चला सब ख़त्म हो गयी, दुखों की पोटलियों पर किसी ने हाथ नही लगाया|

ज्ञान की अभिव्यक्ति…

*ज्ञान की अभिव्यक्ति…* ज्ञान को अपनी वासना का रूप मत देना ज्ञान गीता है इसमे त्याग की अभिव्यक्ति होती ! …

नश्वरता का ज्ञान

१- विषयों की प्रियता का भान , प्रत्येक प्राणी को होता है । इनकी नश्वरता का ज्ञान”उपासना” किसी विरले को …