सावन की उमंग

पहन ओढ़ कें पचरंगा,अरु मेंहदी हाथ रचाई, बागन में डार हिंडोला, झूला झूल हरसाई।। सोहगी तौ सासू जी ने भेजी,पहर ओढ़, सरमाई, पहले सनूने सैंया संग,सेंवई,बूरे की रीत निभाई।। सोहगी__ यू.पी. में सिंजारा…

Continue Reading

वो सावन दिखे तो बताना!

वो सावन दिखे तो बताना! सावन में नव विवाहित स्त्रियों की (मायके जाने की) प्रतीक्षा आजकल तो समाप्त ही हो गई है। ना तो पहले जैसे रिवाज रहे, और ना ही उन त्यौहारों…

Continue Reading
Close Menu