Warning: Declaration of QuietSkin::feedback($string) should be compatible with WP_Upgrader_Skin::feedback($string, ...$args) in /var/www/wp-content/plugins/ocean-extra/includes/wizard/classes/QuietSkin.php on line 12

Warning: session_start(): Cannot start session when headers already sent in /var/www/wp-content/plugins/userpro2/includes/class-userpro.php on line 197
दुनिया Archives - हिन्दी लेखक डॉट कॉम

नीलकंठ

नीले आसमां से नीली बारिश ने सब कुछ नीला कर दिया नीले रंग से सब नहला दिया नीला रंग सब में भर दिया नीले रंग से सब रंग दिया नीला पानी नीले पहाड़…

Continue Reading

बोध

मेरे प्रियजन की आत्मा परमात्मा में विलीन हो गई छोड़ गई अपने कुछ अंश इस धरती पे अंश अंश जोड़कर भी आत्मा से मिलन नहीं हो पा रहा परमात्मा में भी आत्मा का…

Continue Reading

एक रंग

खौफजदा मैं गिरगिट पल पल बदलते इंसानों के रंगों को देखकर हरे पत्तों में लिपट छिप गई मैं इस दुनिया के बेमौसम नजारों से बाहर से जो भी दिखूं एक रंग हो गई…

Continue Reading

अहसास

इस दुनिया से जाने वालों हो सके तो वापिस लौट आओ मैं अतृप्त हो गयी हूँ तुम्हारी आत्मीयता से भरी मीठी रस की फुहार सी बातों के अभाव में अखरने लगे हैं मुझे…

Continue Reading