मौकापरस्त मोहरे

वह तो रोज़ की तरह ही नींद से जागा था, लेकिन देखा कि उसके द्वारा रात में बिछाये गए शतरंज के सारे मोहरे सवेरे उजाला होते ही अपने आप चल रहे हैं, उन…

Continue Reading मौकापरस्त मोहरे

एक पत्र पेरेंट्स के लिए

हैलो पेरेंट्स ... बच्चों की  परवरिश को लेकर मुझे  कुछ  कहना है। आपके बच्चों को आप जैसा बनाते हैं, वह कुछ वर्षों की कड़ी मेहनत का  परिणाम है। यह एक तरह की  जीवनबीमा…

Continue Reading एक पत्र पेरेंट्स के लिए