प्यार

Home » प्यार

तेरे मेरे  अधरों  पर  हरदम  बस  यों  ही  मुस्कान  रहे ।

By | 2018-02-12T08:30:37+00:00 February 12th, 2018|Categories: कविता|Tags: , , |

सूरत सुहानी  देख  तुम्हारी  भूल  गए  हम तो  रब  को । तेरा  चेहरा  याद  रहा  बस  भूल  गए  हम [...]

क्षण भर को क्यों प्यार किया था?

By | 2018-02-11T17:01:26+00:00 February 8th, 2018|Categories: कविता, हरिवंश राय बच्चन|Tags: , , , |

अर्द्ध रात्रि में सहसा उठकर, पलक संपुटों में मदिरा भर, तुमने क्यों मेरे चरणों में अपना तन-मन वार दिया [...]

भाषा

By | 2018-02-05T23:12:26+00:00 February 5th, 2018|Categories: गीत-ग़ज़ल|Tags: , , , , , , |

कभी इन्कार की भाषा कभी इक़रार की भाषा मुझे प्यारी लगा करती सदा ही प्यार की भाषा फ़क़त जिस्मों [...]