प्याला

Home » प्याला

मधुशाला

By | 2018-02-11T17:02:37+00:00 February 11th, 2018|Categories: कविता, हरिवंश राय बच्चन|Tags: , , , |

मृदु भावों के अंगूरों की आज बना लाया हाला, प्रियतम, अपने ही हाथों से आज पिलाऊँगा प्याला, पहले भोग [...]