कुछ बात तो बन जायेगी

दो दिल जहा मिलेगे॥ बरसात तो हो जायेगी॥ पहली ही मुलाक़ात में॥ कुछ बात तो बन जायेगी॥ सताएगी याद प्रिये की ॥ तडपाये गी तन्हाईया॥ चेहरा दिखाई देगा॥ मन भाएगी परछाईया॥ फ़िर भी…

Continue Reading

जब आप मुस्कुराए

मुझको सुकून आया ॥ जब आप मुस्कुराए॥ महफ़िल मेरी सजी थी॥ जब प्रेम गीत गाये॥ चन्दा भी हंस दिया था॥ सूरज बजाया ताली॥ बादल बरस पड़ा था॥ हरियर हुयी थी क्यारी॥ मन को…

Continue Reading

प्रेम बवंडर

हम जानी दिल हमरै टूटा॥ ई प्रेम बवंडर सब का लूटा॥ केहू केहू कै घर बसाइस ॥ केहूँ केहू का लैके डूबा॥ ई प्रेम बवंडर सब का लूटा॥ केहू केहू कय बाग़ सजाइस…

Continue Reading
Close Menu