Warning: Declaration of QuietSkin::feedback($string) should be compatible with WP_Upgrader_Skin::feedback($string, ...$args) in /var/www/wp-content/plugins/ocean-extra/includes/wizard/classes/QuietSkin.php on line 12

Warning: session_start(): Cannot start session when headers already sent in /var/www/wp-content/plugins/userpro2/includes/class-userpro.php on line 197
प्रेरणा Archives - हिन्दी लेखक डॉट कॉम

एक था बचपन

एक  था  बचपन ,एक था  बचपन , भोला सा ,प्यारा  सा  ,नन्हा सा बचपन . क्यों  हैवानियत का ग्रास बना  बचपन ?   वोह  नटखटपन ,वोह शोखियाँ और  शरारतें , वोह अल्हड़पन ,…

Continue Reading

दूध के धुले लोग … (ग़ज़ल)

दूध  के धुले  लोग  कुछ हमसे  अलग होते हैं, हाँ  !  उनमें सुर -ख्वाब के पर  लगे होते हैं . रहते  हैं आसमां में ,ज़मीं पे कहाँ  रहते हैं , तकदीर  के यह…

Continue Reading

यूँ खेलें होली ..

  होली  का उत्सव ज़रूर मनाये ,   ख़ुशी से   मेहरबां !  मगर  पर्यावरण का भी हुजुर! कुछ रखिये  ध्यान . प्राकृतिक रंगों का करें सदा  उपयोग , परस्पर रंग लगाने में. पानी…

Continue Reading
  • 1
  • 2
Close Menu