मेहमान

Home » मेहमान

अब मैं आता हूँ मात्र

By | 2018-02-12T23:36:11+00:00 February 12th, 2018|Categories: कविता|Tags: , , |

अब मैं आता हूँ मात्र ! (मधुगीति १८०२११) अब मैं आता हूँ मात्र, अपनी विश्व वाटिका को झाँकने; अतीत [...]