रूपवती का प्यार

आधा मुँह घूँघट के अंदर, आधे का दीदार हुआ। उसकी इसी अदा पर यारों, हमको तो है प्यार हुआ। आधा …

चंद्रमुखी नार

चंद्रमुखी नार (मनहरण घनाक्षरी छंद) ———————— चंद्रमुखी नार है, यौवन अपार है । हंसिनी सी ग्रीवा सजा, मोतिन का हार …