राम और रावण की चर्चा

अच्छा छोड़ो अब बताओ कलयुग में क्या नहीं हो रहा है,
बहनों के साथ सामूहिक बलात्कार क्या सही हो रहा है…

खो गया रामराज्य ज़ुर्म के अंधेरे में

हे राम कहाँ हो तुम , चले आओ हज़ारों अबलाएँ पुकार रही हैं तुम्हें जो घिरी हैं गुनाहों के चक्रव्यूह …