प्रकृति

ए पकृति हमें भी तुमसे प्यार है। तेरे सारे शिकायत हमें स्वीकार है।। ए प्रकृति तेरे हवावों हमें सुकून मिले। …

कुछ दोहे कुछ चौपाइयाँ…

दोहा… चैत्र की नवमी तिथि मे,पावन अयोध्या धाम! सकल सृष्टि उद्धार हेतु, प्रकट भये श्री राम !! चौपाई… जय जय …