संग

Home » संग

भ्रमों की खाइयाँ मिटाने में

By | 2018-02-12T23:33:47+00:00 February 12th, 2018|Categories: कविता|Tags: , , |

भ्रमों की खाइयाँ मिटाने में, जीव को ब्रह्म भाव लाने में; लयों में भुवन को पिरोने में, प्राण को [...]