तौबा !यह काम वालियां ( मेहरी)

तौबा ! यह काम वालियां (मेहरी / house-made) जब  ना   आये   वोह  काम पर , तो   हम …

दूध के धुले लोग … (ग़ज़ल)

दूध  के धुले  लोग  कुछ हमसे  अलग होते हैं, हाँ  !  उनमें सुर -ख्वाब के पर  लगे होते हैं . …